डीएच लॉटरी

Publishing time:2021-10-24 04:28:22

कैसीनो के खेल रहा है डीएच लॉटरी betway जुआ,fun88 प्रचार,lovebet ५ यूरो मुफ्त,lovebet आई sverige,lovebet टेनिस लाइव,भारत में 3 रील स्लॉट,बैकारेट ऐप,बैकरेट आउटसोर्सिंग नियम,बेस्ट ऑफ़ फाइव फिंगर डेथ पंच गाने,सट्टेबाज प्रचार,कैसीनो जीवन,शतरंज और रॉविन मंगा,क्रिकेट किताब kmart,क्रिकेट कल का स्कोर,यूरोपीय कप खाता खोलना,फुटबॉल सट्टेबाजी नेटवर्क रैंकिंग,जी खेल चक्र,खेत में खुश किसान,मुझे लवबेट प्रोमो कोड चाहिए,जैकेट काला,ला लीगा गेमिंग कंपनी,लाइव शतरंज रैंकिंग,लॉटरी खेला वीडियो,लूडो जोन लाइव,ऑनलाइन कैसीनो पता,ऑनलाइन गेम रमी,चुंबा जैसे ऑनलाइन स्लॉट,पोकर 10,दोस्तों के साथ पोकर ऑनलाइन,रूले नंबर चार्ट,रम्मी डी अवसर,जल्दी मछली पकड़ने की छड़,स्लॉट्स गार्डन लॉगिन,खेल पी एल,तीन पत्ती गो APK,नवीनतम विशेषज्ञ फुटबॉल की भविष्यवाणी करते हैं,आभासी क्रिकेट पासा,वाइल्डज़ गेम्स,JDBइलेक्ट्रोनिक,करीना फिल्म,क्रिकेट वाला गेम,छोटू बकरा,पारिजात का पौधा,बरसात यादव,रमी लकी,स्टेटस नया, .फ्रैंकलिन टेंपलटन की छह बंद योजनाओं को मिले 15,776 करोड़ रुपये

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

फ्रैंकलिन टेंपलटन की छह बंद योजनाओं को मिले 15,776 करोड़ रुपये

फंड हाउस ने 23 अप्रैल को छह डेट म्यूचुअल फंड योजनाओं को बंद कर दिया था. इन आधा दर्जन फंडों का एसेट अंडर मैनेजमेंट करीब 25,000 करोड़ रुपये का था.
नई दिल्ली: फ्रैंकलिन टेंपलटन म्यूचुअल फंड ने शुक्रवार को कहा कि उसकी छह योजनाओं को अप्रैल 2020 में बंद होने के बाद से मैच्योरिटी, पूर्व भुगतान और कूपन भुगतान से 15,776 करोड़ रुपये मिले हैं.

फंड हाउस ने 23 अप्रैल को छह डेट म्यूचुअल फंड योजनाओं को बंद कर दिया था. इसके लिए डेट बाजार में लिक्विडिटी की कमी तथा लोगों द्वारा निकासी के दबाव का हवाला दिया गया था. इन आधा दर्जन फंडों का एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) करीब 25,000 करोड़ रुपये का था.

ये योजनाएं 'फ्रैंकलिन इंडिया लो ड्यूरेशन फंड, फ्रैंकलिन इंडिया डायनेमिक एक्यूरल फंड, फ्रैंकलिन इंडिया क्रेडिट रिस्क फंड, फ्रैंकलिन इंडिया शॉर्ट टर्म इनकम प्लान, फ्रैंकलिन इंडिया अल्ट्रा शॉर्ट बॉन्ड फंड और फ्रैंकलिन इंडिया इनकम अपर्चुनिटीज फंड' हैं.

इसे भी पढ़ें: इनकम टैक्स भरने के लिए जारी हुआ नया आईटीआर फॉर्म, जानिए क्या हैं बदलाव

कंपनी ने अपने बयान में कहा, "छह योजनाओं को 31 मार्च, 2021 तक कुल 15,776 करोड़ रुपये का नकदी मिली है." इस साल 31 मार्च को समाप्त हुए पखवाड़े में इन योजनाओं को 505 करोड़ रुपये मिले हैं.

फंड हाउस ने कहा कि फ्रैंकलिन इंडिया इनकम ऑपर्चुनिटीज फंड ने अपने सभी बकाया उधारी को चुका दिया है. इस तरह अब सभी छह योजनाएं नकदी के हिसाब से सकारात्मक हो गई हैं और इनके पास 1,370 करोड़ रुपये का फंड बचा हुआ है.




हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

फ्रैंकलिन टेंमपलटन म्यूचुअल फंडफ्रैंकलिन टेंमपलटन डेट म्यूचुअल फंडसेबीशेयर बाजारफ्रैंकलिन टेंमपलटनम्यूचुअल फंड्सफ्रैंकलिन टेंमपलटन डेट फंडफ्रैंकलिन टेंमपलटन की बंद स्कीमें

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival
Recent hit

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival

11 mins read
Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past
Investing

Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past

14 mins read
फ्रैंकलिन टेंपलटन की छह बंद योजनाओं को मिले 15,776 करोड़ रुपये

निवेशकों के सोने का आकर्षण बढ़ा है. वित्त वर्ष 2020-21 में गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ईटीएफ) में निवेशकों ने 6,900 करोड़ रुपये डाले.चूंकि एफओएफ दूसरी म्‍यूचुअल फंड स्‍कीमों में निवेश करते हैं. लिहाजा, डुप्‍लीकेशन की कॉस्‍ट आ सकती है.मुझे रिटायरमेंट के लिए 19 साल में ₹1.24 करोड़ जुटाने हैं, कैसे प्लानिंग करूं?

विशेषज्ञों का कहना है कि औद्योगिक कमोडिटीज में निवेश से सोने के मुकाबले बढ़िया रिटर्न मिल सकता हैअधिकतर निवेशक इक्विटी फंड्स में निवेश करने के लिए सिस्टेमैटिक इंवेस्टमेंट प्लान (सिप) को तरजीह देते हैं. हाल के समय में सिप को बहुत अधिक लोकप्रियता मिली है.सुकन्‍या समृद्धि योजना के बारे में जानिए अपने हर सवाल का जवाब

अपने साथ की प्रतिद्वंद्वी कंपनियों के मुकाबले डॉ रेड्डीज लैब का वैल्यूएशन कम है. साथ ही बैलेंसशीट भी मजबूत है.शेयरों में निवेश से जुड़े जोखिम के अलावा इंटरनेशनल फंड में निवेश से करेंसी का जोखिम भी जुड़ा होता है. दूसरे देश की मुद्रा के मुकाबले रुपये में कमजोरी और मजबूती का असर आपके रिटर्न पर पड़ता है.एनपीएस में निवेश किया है? जानिए एसेट एलोकेशन में कैसे करें बदलाव

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


परिमच क्या है
चेस गेम कैसे खेला जाता है
क्रिकेट बुक बॉलिंग
लॉटरी APK
Vue . में स्लॉट
फुटबॉल खिलाड़ियों का नाम
लूडो बार गेम
लिवरपूल रम्मी कार्ड गेम
बैकारेट file
बैकारेट सी
एफ # पोकर
क्रिकेट पी एस एल
कैसीनो एक पेरिस
lovebet दा स्कारिकारे
एम.पोकरबोला
बेटिंग साइट्स जो बोनस देती हैं
फुटबॉल ग्राउंड की लम्बाई चौड़ाई
10cric क्रिकेट
कश्मीर फुटबॉल टीम
फुटबॉल लीग
बैकारेट स्टैंड-अलोन फन
कैसीनो यूरो
स्पोर्ट्स 4k वॉलपेपर
मैं एक सेलेब लवबेट हूं
निर्यात श्रृंखला
जोकर पर निबंध
रमी पत्ता