रम्मी याहू

रम्मी याहू

time:2021-10-24 05:22:26 लंबी अवधि में क्‍या क्रिप्‍टोकरेंसी पैसा बनाने में मदद करेगी? Views:4591

लॉटरी का खेल दिखाना रम्मी याहू betway एक दोस्त को देखें,लियोवेगास अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न,lovebet 9ja,lovebet ली जी,lovebet वी/पी 1/4,मेरे पास एक कैसीनो,बैकरेट कैसीनो जुआ,बैकरेट रोड सिंगल सॉफ्टवेयर,bet365 डाउनलोड,कैश रूले ऑनलाइन गेम,कैसीनो quiberon,शतरंज एक्स-रे बनाम कटार,क्रिकेट एफ/ओ,दिन के खेल समाचार,यूरोपीय कप बाधाओं का विश्लेषण,फुटबॉल ग्राउंड इंडेक्स,गेमिंग एलीट मेन फोरम,एचबी शतरंज,ऋण निकासी,जैकपॉट गेम असली पैसे जीतते हैं,लाइव बैकरेट पोकर,लाइव रूले कोस्टेनलोस स्पीलें,लॉटरी आर परिणाम,एमएन लॉटरी परिणाम,ऑनलाइन कैसीनो kostenlos,ऑनलाइन मकाऊ कैसीनो,ऑनलाइन खेल लॉटरी सट्टेबाजी,पोकर औ डेस द विचर 2,पूल रम्मी टिप्स,रॉयल कैनिन पिल्ला,रमी मोबाइल अपडेट,s'inscribe सुर लवबेट डेपुइस ला फ्रांस,स्लॉट समय,स्पोर्ट्स एक्स लीग ऐप डाउनलोड,तीन पत्ती धन,पोकर लड़की,वा लॉटरी,विश्व कप परिधि,आईपीएल कब शुरू होगा,कैटरीना हो,खेलो पर जुआ ram,जोकर धुन रिंगटोन,फुटबॉल गेम्स,बेटा के गीत,लाल और काली बेर पार्टी,स्पीड रैंकिंग 3, .लंबी अवधि में क्‍या क्रिप्‍टोकरेंसी पैसा बनाने में मदद करेगी?

अपने पोर्टफोलियो में इस एसेट को जोड़ते समय कुछ बातों का ध्यान रखने की जरूरत है
रुद्र 20 साल के हैं. वह एक कॉलेज में फाइनेंस के छात्र हैं. एक साल से वह इक्विटी और फिक्‍स्‍ड एसेट में निवेश कर रहे हैं. उन्‍हें दूसरे एसेट क्लास की भी तलाश है. क्‍या उन्‍हें क्रिप्‍टोकरेंसी के बारे में विचार करना चाहिए? अगर हां तो वह इस दिशा में कैसे बढ़ सकते हैं? लंबी अवधि में पैसा बनाने के लिए उन्‍हें क्‍या करना चाहिए?

आइए, जानते हैं कि एक्‍सपर्ट उन्‍हें क्‍या सलाह दे रहे हैं.

पीपीएफएएस म्यूचुअल फंड में सीएफपी और हेड-प्रोडक्‍ट्स जयंत आर पई कहते हैं कि यह बहुत अच्‍छा हैं कि रुद्र ने काफी कम उम्र से पैसा बनाने की तरफ कदम बढ़ाए हैं. वैसे तो हाल में क्रिप्‍टोकरेंसी पैसा बनाने में बहुत सफल जरिया रहा है. लेकिन, अपने पोर्टफोलियो में इस एसेट को जोड़ते समय दो बातों का ध्यान रखने की जरूरत है :

इसे भी पढ़ें : म्‍यूचुअल फंडों के एक्सपेंस रेशियो के बारे में यहां जानिए सब कुछ

- प्रमुख एसेट क्लास की तुलना में क्रिप्‍टोकरेंसी में मूल्यों में अस्थिरता बहुत ज्यादा होती है. क्‍या आपके पास इस तरह के उतार-चढ़ाव को बर्दाश्त करने की क्षमता है. क्‍या रुद्र आर्थिक रूप से उतना सक्षम हैं.

इसे भी पढ़ें : क्‍या आपको फंड ऑफ फंड्स में निवेश करना चाहिए?

- भारतीय नियामकों का ऐसी करेंसी को लेकर रुख स्पष्ट नहीं है. उन्‍होंने साफ-साफ कुछ भी नहीं कहा है कि भारतीय इनमें ट्रेड करें या नहीं. अगर भविष्य में कोई प्रतिकूल फैसला लिया जाता है तो रुद्र एक खराब लिक्विडिटी वाले एसेट में फंस जाएंगे. अच्‍छा होगा कि वह इक्विटी और फिक्‍स्‍ड इनकम में अपने निवेश को बनाकर रखें. कारण है कि इनके भविष्य को लेकर किसी तरह का असमंजस नहीं है.

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें
(Disclaimer: The opinions expressed in this column are that of the writer. The facts and opinions expressed here do not reflect the views of www.economictimes.com.)

टॉपिक

क्रिप्‍टोकरेंसीट्रेडिंगएसेट क्‍लासभारतीय नियामकपोर्टफोलियो

ETPrime stories of the day

As airlines inch back to normalcy, vacant middle seats are a cause of worry
Aviation

As airlines inch back to normalcy, vacant middle seats are a cause of worry

11 mins read
Q2 FY22 preview: Tariff hikes to push Airtel’s growth; Jio’s modest outlook as Vi fights for its turf
Telecom

Q2 FY22 preview: Tariff hikes to push Airtel’s growth; Jio’s modest outlook as Vi fights for its turf

9 mins read
After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?
Investing

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?

9 mins read

नयी दिल्ली, 23 अक्टूबर (भाषा) बिजली मंत्रालय ने क्षेत्र को आर्थिक रूप से व्यावहारिक बनाने के लिए शनिवार को कुछ नए नियमों की घोषणा की। इन नियमों का मकसद बिजली क्षेत्र के विभिन्न अंशधारकों से वित्तीय दबाव को कम करना और ऊर्जा उत्पादन की लागत को जल्द निकालना है। एक बयान में कहा गया है कि मंत्रालय ने बिजली क्षेत्र में स्थिरता तथा स्वच्छ ऊर्जा को प्रोत्साहन के लिए नए नियम अधिसूचित किए हैं। इनके जरिये भारत जलवायु परिवर्तन के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को भी पूरा कर सकेगा। बयान में कहा गया है कि बिजली क्षेत्र के निवेशक औरप्राइम इंवेस्टर ने निवेशकों को फ्रैंकलिन टेम्पलटन म्यूचुअल फंड की सभी स्कीमों से निकासी करने की सलाह दी है. प्राइम इंवेस्टर चेन्नई की एक स्वतंत्र रिसर्च फर्म है.स्ट्रॉन्गसन रिन्यूएबल्स में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाकर 28.10 प्रतिशत करेगी मिंडा इंडस्ट्रीज

अधिकतर निवेशक इक्विटी फंड्स में निवेश करने के लिए सिस्टेमैटिक इंवेस्टमेंट प्लान (सिप) को तरजीह देते हैं. हाल के समय में सिप को बहुत अधिक लोकप्रियता मिली है.दुबई, 23 अक्टूबर (एपी) दुनिया के सबसे बड़े तेल उत्पादकों में शामिल सऊदी अरब ने 2060 तक ग्रीन हाउस गैसों के ‘शून्य उत्सर्जन’ की प्रतिबद्धता जताई है। यह घोषणा युवराज मोहम्मद बिन सलमान ने शनिवार को की। इसके साथ ही सऊदी अरब उन 100 से अधिक देशों में शामिल हो गया है जिन्होंने दुनिया को मानव निर्मित जलवायु परिवर्तन से बाहर निकालने की प्रतिबद्धता जताई है। सऊदी अरब के पहले सऊदी हरित पहल मंच के शुभारंभ के मौके पर बिन सलमान ने यह घोषणा की है। सऊदी अरब की यह घोषणा ग्लासगो, स्कॉटलैंड में वैश्विक सीओपी 26 जलवायु सम्मेलन शुरूत्योहारी मांग से लगभग सभी तेल-तिलहन कीमतों में सुधार

निवेशकों के सोने का आकर्षण बढ़ा है. वित्त वर्ष 2020-21 में गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ईटीएफ) में निवेशकों ने 6,900 करोड़ रुपये डाले.ब्‍याज दरों में कटौती का फैसला वापस होने के बाद एक सामान्‍य धारणा बनी. वह यह थी कि चुनावों को देखते हुए यह फैसला लिया गया.स्ट्रॉन्गसन रिन्यूएबल्स में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाकर 28.10 प्रतिशत करेगी मिंडा इंडस्ट्रीज

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
फुटबॉल बाहरी नेट

ब्‍याज दरों में कटौती का फैसला वापस होने के बाद एक सामान्‍य धारणा बनी. वह यह थी कि चुनावों को देखते हुए यह फैसला लिया गया.

वीडियो बोर्ड गेम

सामान्‍य सिप के मामले में निवेशक सिप की अवधि में अपना कॉन्ट्रिब्‍यूशन नहीं बढ़ा सकते हैं. अगर वे इसे बढ़ाना चाहते हैं तो उन्‍हें नए सिरे से सिप शुरू करना होगा या एकमुश्त निवेश करने की जरूरत होगी.

lovebet स्क्रिप्ट डाउनलोड

नयी दिल्ली, 23 अक्टूबर (भाषा) बिजली मंत्रालय ने क्षेत्र को आर्थिक रूप से व्यावहारिक बनाने के लिए शनिवार को कुछ नए नियमों की घोषणा की। इन नियमों का मकसद बिजली क्षेत्र के विभिन्न अंशधारकों से वित्तीय दबाव को कम करना और ऊर्जा उत्पादन की लागत को जल्द निकालना है। एक बयान में कहा गया है कि मंत्रालय ने बिजली क्षेत्र में स्थिरता तथा स्वच्छ ऊर्जा को प्रोत्साहन के लिए नए नियम अधिसूचित किए हैं। इनके जरिये भारत जलवायु परिवर्तन के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को भी पूरा कर सकेगा। बयान में कहा गया है कि बिजली क्षेत्र के निवेशक और

करीना समाचार

यूनिट लिंक्ड इंश्‍योरेंस प्‍लान यानी यूलिप और म्यूचुअल फंड कई मायनों में अलग होते हैं. यह और बात है कि कई लोग इन्‍हें एक जैसा प्रोडक्ट समझने की भूल कर बैठते हैं. आपको भी अगर ऐसी गलतफहमी है तो यहां हम इन दोनों के बीच कुछ महत्वपूर्ण अंतरों के बारे में बता रहे हैं.

सर्वश्रेष्ठ स्पोर्ट्स बेटिंग साइट

भारतीय नियामकों का ऐसी करेंसी को लेकर रुख स्पष्ट नहीं है. उन्‍होंने साफ-साफ कुछ भी नहीं कहा है कि भारतीय इनमें ट्रेड करें या नहीं.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी